यूरिक एसिड में परहेज

   यूरिक एसिड में परहेज:

यूरिक एसिड में परहेज: आज के समय में ज्यादातर लोगों को यूरिक एसिड की समस्या काफी आ गई है

तथा काफी लोग भी इस समस्या से डिप्रेशन में भी आ जाते हैं।

क्या आपको पता है की यूरिक एसिड बढ़ने पर ये जोड़ों में एकत्रित होने लगता है।

जिस कारण की पैरों की उँगलियों में सूजन तथा दर्द होने की समस्या आने लगती है ,

और हमारे जोड़ों में भी दर्द होने लगती है।

और अगर हम इस समस्या का समय पे इलाज न करें तो ,

बीमार व्यक्ति को उठने बैठने में भी समस्या आने लगती है।

यदि इसका समय पे इलाज न करें तो हमें गठिया जैसे बीमारी का सामना भी करना पड़ सकता है।

अधिक शराब पीना या फिर जरूरत से अधिक वजन को बढ़ाने पर भी यूरिक एसिड बढ़ जाता है।

आपके शरीर में यूरिक एसिड ज्यादा न हो इसके लिए आपको बेकरी के उत्पाद नहीं खाने पड़ेंगे।

हमारे शरीर में यूरिक एसिड एक प्यूरिन के टूटने से बनता है।

मतलब की हम जो भी खाना खाते है उसके अंदर जो भी तत्व होते है ,

वो आपके प्यूरिन की बॉन्डिंग टूटती है

ऐसा होने से यूरिक एसिड का लेवल बढ़ जाता है।


आइए जानते हैं इसके कुछ लक्षण।

 

जोड़ों में दर्द होना।
जोड़ों में गांठ पड़ना।
उठते बैठते दर्द होना।
पैरों के अंघूठे में सूजन आना।
जोड़ों में सूजन आना।

आइये जानते हैं इसको कंट्रोल करने के कुछ घरेलू उपाय:

अखरोट – रोज सुबह खाली पेट एक अखरोट खाने से यूरिक एसिड कम होता है और कंट्रोल में रहता है।

अश्वगंधा और शहद –
रोज सुबह एक चमच शहद और अश्वगंधा को मिक्स कर के ,

इसका सेवन गुनगुने दूध के साथ करते रहें गर्मियों के समय इसकी मात्रा कम कर दें ।

अलसी के बीज –
यदि आप रोज खाना खाने के एक घंटे बाद अलसी के ,

बीज को चबाएंगे तो आपको आराम मिलेगा।

आंवले का जूस –
आंवले के जूस को एलोविरा के जूस में मिलाकर पिने से आपको आराम मिलेगा।

बेकिंग सोडा –
यदि हाई यूरिक एसिड हो तो ये शरीर में एक क्रिस्टल की तरह बन जाता है,

और शरीर के दूसरे अंगों में जमा होने लगता है।

यदि आप एक चमच बेकिंग सोडा को पानी में मिला कर पिएं तो सारे क्रिस्टल टूट कर

पेशाब के द्वारा बाहर निकल जाते हैं।और हमारा यूरिक एसिड कंट्रोल में रहता है।


गिलोए का जूस पीना –
यदि आप रोज सुबह गिलोए का जूस पियें तो आपको बहुत अधिक फायदा होता है।

नारियल पानी – यदि आप नारियल पानी पियें तो आपका यूरिक एसिड कम होता है।

अजवायन –
अजवायन एक प्रकार का आयुर्वेदिक दवा है इसका सेवन करने से यूरिक एसिड कम होता है।

चुकंदर और सेब – यदि आप रोज सुबह चुकंदर , सेब , गाजर का मिक्स जूस पिएं तो काफी आराम मिलेगा।

इसको कम करने के आसान उपाय।

अधिक से अधिक पानी पिएं।

वजन कम करें ।

दूध कम फेट वाला पिएं ।

जैतून के तेल में खाना बनाएं ।

प्याज का सेवन करें क्योंकि ये शरीर में प्रोटीन को बढ़ाता है

नीबूं पानी पिएं क्योंकि ये हमारे शरीर को साफ़ करता है,

और केलोस्ट्रोल को भी बाहर निकालता है।


2 thoughts on “यूरिक एसिड में परहेज

  1. Mahesh Kalra

    Please send me more about this disease.

    1. Savita Thakur

      please mail me

Comments are closed.